banner goes here

Browse By

Your Ad Here
banner goes here

Category Archives: ज्योतिष उपाय

यदि पाना चाहते है सभी जगह मान – सम्मान तो करें यह सरल उपाय

प्रातः काल स्नान आदि से निवृत होकर , साफ – शुद्ध जल में – गुञ्जा की जड़ को चन्दन की भाँति घिसें। फिर इस लेप को माथे पर चन्दन की भाँति लगायें। इस प्रकार से लेप लगाकर व्यक्ति जहाँ भी ( सभा , समाज ,

गूञ्जा का यह चमत्कारिक उपाय करता है विद्या – बुद्धि में असीम वृद्धि

बकरी के दूध में गूञ्जा – मूल को घिसकर हथेलियों पर रगड़ें और फिर उसका लेप करें। कुछ समय बाद हाथो को साफ पानी से धो लें। इस प्रकार से प्रतिदिन प्रयोग करते रहने से प्रयोक्ता व्यक्ति की बुद्धि तीव्र हो जाती हैं और वह

रुद्राक्ष धारण करें और पाएं यह सब

रुद्राक्ष धारण करने से मिलने वाले लाभ : रुद्राक्ष धारण करने से निम्नलिखित लाभ प्राप्त होते हैं-  .  रुद्राक्ष धारण करने वाले से स्वयं भगवन रुद्र ( शिवशंकर ) बहुत ही प्रसन्न होते हैं और उस पर अपनी कृपा –          दृष्टि बनाये रखते हैं। .  रुद्राक्ष धारण करने

स्मरण – शक्ति बढ़ाने के लिये करें तुलसी का यह रामबाण उपाय

  स्मरण – शक्ति बढ़ाने के लिये – प्रातःकाल स्नान आदि से निवृत्त होकर तुलसी के पौधे को जल चढ़ायें और उसे प्रणाम करके निम्नलिखित मन्त्र का पाँच बार पाठ करें।   ॐ नमो देवी कामाख्या , त्रिशूल खडक हस्त पधां           

जानिए कौन सा रुद्राक्ष बदल सकता है आपकी किस्मत – राशि , व्यवसाय और ग्रह दशा से रुद्राक्ष निर्धारण

1 –     राशि ( चन्द्र राशि  )के अनुसार –   राशि                         रुद्राक्ष    मेष            –            तीनमुखी ,चौदहमुखी वृष            –     

लक्ष्मीजी की पूर्ण कृपा प्राप्त करने के लिए करें ‘ श्रीफल ‘ का यह चमत्कारिक उपाय

किसी शुभ दिन ‘ श्रीफल ‘ ले आयें और इसे धो – पोंछकर , लाल रंग के कपड़े में लपेटकर पवित्र स्थान ( पूजाघर ) में रख दें। फिर इस पर – सिंदूर , कपूर , लौंग , छोटी इलायची आदि चढ़ायें। इस पर कोई

चमत्कारिक एकमुखी रुद्राक्ष से ऐसे चमकाएं अपनी किस्मत

एकमुखी रुद्राक्ष – जिस रुद्राक्ष में प्राकृतिक रूप से केवल एक धरी होती है – उसे ‘ एकमुखी रुद्राक्ष ‘ कहा जाता है। इसे सभी प्रकार के रुद्राक्षों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि – यह साक्षात भगवन शिव का ही स्वरूप है

समुद्र शास्त्र के अनुसार अपने बालो से जाने अपना स्वभाव

समुद्र शास्त्र, भारतीय ज्योतिष शास्त्र की ही एक शाखा है जिसके अनुसार किसी भी व्यक्ति के शरीर के विभिन्न अंगों को देखकर उसके बारे में काफी कुछ जाना जा सकता है। आज हम आपको बता रहे हैं की किसी इंसान के बाल से उसके स्वभाव

शनि की साढ़ेसाती से बचने के अति प्रबल उपाय

शनि साढ़ेसाती शनि की साढ़ेसाती मे महिला या पुरुष को मानसिक तनाव क्लेश हो जाना बने हुए काम बिघड़ जाना बुद्धि मे विकार आ जाना. बच्चो के बारे मे परेशानी होना. ऐसे कई प्रकार से विघ्न साड़ेसाती की वजह से आती है. भगवान शनि के